शनिवार, 7 जुलाई 2012

याहू और फेसबुक ने मिलाए हाथ


इंटरनेट कंपनी याहू और सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक ने पेटेंट से जुड़े सभी मुद्दों को सुलझा लिया है और दोनों कंपनियों ने विज्ञापन और वितरण के क्षेत्र में भागीदारी के लिए एक रणनीतिक गठबंधन की घोषणा की है।


दोनों कंपनियों ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि इस समझोते के तहत वे ग्राहकों और विज्ञापनदाताओं को बेहतरीन मीडिया अनुभव प्रदान करने के लिए मिलकर काम करेंगी।
गौरतलब है कि याहू ने मार्च में पेटेंट के दस मामलों के उल्लंघन को लेकर फेसबुक के खिलाफ मामला दर्ज कराया था वहीं फेसबुक ने आरोप लगाया था कि याहू ने उसकी एक तकनीक पर उसके बौद्धिक संपदा अधिकार का अतिक्रमण किया है।
गठबंधन बनाने की घोषणा करते हुए याहू के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी रोज लेविंसन ने कहा कि हम फेसबुक के साथ भागीदारी को लेकर उत्साहित हैं। मैं शेरील (फेसबुक की मुख्य संचालन अधिकारी) और उनके दल का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने इस बड़े समझोते को तैयार करने के लिए मेरे दल के साथ काम किया।
कुछ इसी तरह की प्रतिक्रिया फेसबुक की ओर से दी गई। शेरील सैंडबर्ग ने कहा कि मुजे खुशी है कि हम लोगों ने इस विवाद को सकारात्मक ढंग से सुलझा लिया है। मैं रॉस और याहू के लोगों के साथ मिलकर काम करने को लेकर उत्सुक हूं।

सोमवार, 18 जून 2012

फिटनेस के टॉप पर रहना जरूरी : साइना


हैदराबाद: लगातार दो खिताब जीतने के बाद आत्मविश्वास से भरी भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने आज कहा कि अगले महीने होने वाले ओलंपिक खेलों में चीन की मजबूत खिलाड़ियों का सामना करने के लिए उन्हें आत्मविश्वास के अलावा शारीरिक रूप से भी शीर्ष पर होना होगा।

साइना ने इसी महीने बैंकाक में थाईलैंड ओपन ग्रां प्री गोल्ड बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब जी

तने के बाद पिछले हफ्ते जकार्ता में इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीता।

इस स्टार भारतीय खिलाड़ी ने कहा कि यह जीत इससे बेहतर समय में नहीं आ सकती थी और उनसे लंदन खेलों में पदक जीतने की उम्मीद एक बार फिर बढ़ गई है।

आंध्र प्रदेश खेल मंत्रालय द्वारा यहां पुलेला गोपीचंद अकादमी में आयोजित सम्मान समारोह में साइना ने कहा, ‘मुझे ओलंपिक से पहले कड़ी मेहनत करने की जरूरत है और बैंकाक और जकार्ता में जीत से मेरा मनोबल बढ़ा है। तीसरी बार इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीतकर मैं काफी खुश हूं।’

शुक्रवार, 15 जून 2012

आज दो रूपये घट सकते हैं पेट्रोल के दाम


नई दिल्ली। कच्चे तेल के दामों में जबरदस्त गिरावट के मद्देनजर शुक्रवार को तेल कंपनियां पेट्रोल के दाम दो रूपये कम कर सकती है। जब पेट्रोल के दाम बढ़ाये गये थे, तब कु्रड के दाम 124 डॉलर प्रति बैरल था। बुधवार को यह घटकर 96.5 डॉलर प्रति बैरल हो गया जो पिछले एक वर्ष में सबसे अधिक गिरावट है

बुधवार, 27 जुलाई 2011

कल हो सकती है बालकृष्ण की गिरफ्तारी


मोहित : योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण को पासपोर्ट बनवाने के लिये फ़र्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने के मामले में सीबीआई कल गिरफ्तार कर सकती है सीबीआई सूत्रों ने कहा कि सीबीआई ने मामले में बालकृष्ण को कल उपस्थित होने के लिये समन भेजा है क्योंकि हरिद्वार में वह अपने आवासीय पते पर नहीं मिले.
उन्होंने कहा कि देहरादून में एजेंसी के समक्ष उपस्थित होने के लिये स्थानीय पुलिस के माध्यम से बालकृष्ण को समन भेजा गया है.उन्होंने कहा,‘‘ऐसा लगता है कि वह अपने आवास से तीन दिनों से लापता हैं. अगर जरूरत पडी तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है .
सीबीआई ने इससे पहले बालकृष्ण के खिलाफ़ धारा 420 ठगी, 120 बी आपराधिक षड्यंत्र के तहत मामला दर्ज करने के बाद उनके खिलाफ़ लुक आउट नोटिस जारी किया था. उनके खिलाफ़ फ़र्जी डिग्री और भारतीय पासपोर्ट अधिनियम की धारा 12 के उल्लंघन के लिये मामला दर्ज किया गया था.
उन्होंने कहा कि एजेंसी ने विदेश मंत्रालय से संपर्क कर बालकृष्ण के पासपोर्ट को रद्द करने की मांग की है क्योंकि उनके द्वारा पेश किये गये शैक्षिक डिग्री फ़र्जी पाये गये.इससे पहले बालकृष्ण के अंगरक्षक जयेंद्र सिंह असवाल ने हरिद्वार के कनखल थाने में उनके लापता होने का मामला दर्ज कराया था.
रिपोर्ट के मुताबिक असवाल कल बालकृष्ण के दिव्य योग आश्रम पहुंचे जहां से उन्हें पतंजलि कार्यालय ले जाना था लेकिन बालकृष्ण ने उन्हें अकेले कार्यालय जाने को कहा और कहा कि वह बाद में जाएंगे. बहरहाल असवाल ने कहा कि उन्होंने देर शाम तक इंतजार किया लेकिन बालकृष्ण नहीं आए. दिव्य योग आश्रम लौटने के बाद असवाल ने उनके बारे में पूछताछ की लेकिन उनका पता नहीं चला जिसके बाद उन्होंने रिपोर्ट दर्ज कराई.

रविवार, 3 जुलाई 2011

मंदिर से मिला 1 लाख करोड़ का खजाना जनहित में खर्च करने की सलाह देने वाले पर हमला


मोहित - हमारे मंदिरों में इतनीधन है की सबको मिला कर देश की भलाई के लिए इस्तेमाल किया जाय तो शायद गरीबी का नामोनिशान मिट जाय.लेकिन कुछ लोग एसा नहीं मानते.यह रिपोर्ट देखे
अनंतपुरम.श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर में मिले अकूत खजाने को लेकर टिप्पणी करने वाले तर्कशास्त्री यू. कलानाथन के घर पर कुछ शरारती तत्वों ने हमला कर दिया। कलानाथन ने सलाह दी थी कि मंदिर में मिले खज़ाने का इस्तेमाल जन कल्याण के कामों के लिए किया जाना चाहिए।
पुलिस के अनुसार शनिवार रात अज्ञात लोगों द्वारा किए गए पथराव में कोई घायल नहीं हुआ, लेकिन सामान का नुकसान हुआ। केरल युक्ति वदी संगम के राज्य सचिव कलानाथन ने टीवी चैनलों पर मंदिर में मिले खजाने के उपयोग को लेकर हुई चर्चा में अपने विचार व्यक्त किए थे। कलानाथन ने अपने मकान पर हुए हमले को 'सांप्रदायिक तत्वों' का योजनाबद्ध हमला करार दिया।
यहां श्री पद्मनाभ स्‍वामी मंदिर के तहखाने में मिले खजाने की रकम बढ़ती ही जा रही है। शनिवार को और सोने की मूर्तियां, सिक्‍के व दूसरी चीजें मिलने से मंदिर के एक तहखाने में मिले खजाने का मूल्‍य 100000 करोड़ रुपये से भी ज्‍यादा पहुंच गया है।
सुप्रीम कोर्ट के निर्देश में बनी समिति ने शनिवार को छठे दिन भी तहखाने की तलाशी जारी रखी। इसमें भगवना विष्‍णु की सोने की एक मूर्ति मिली। इस पर हीरे और रत्‍न भी जड़े हुए हैं। इस मूर्ति का मूल्‍य अभी नहीं आंका जा सका है। इसके अलावा 1-1 किलो वजन की शुद्ध सोने की कई आकृतियां ओर 18 फुट तक लंबे, 35 किलो वजनी गहने भी मिले। सिक्‍कों ओर कीमती पत्‍थरों से भरी बोरियां भी मिलीं। गैरआधिकारिक अनुमान के मुताबिक इस चैंबर ए से मिली संपत्ति का मूल्‍य 100000 करोड़ रुपये से भी अधिक पहुंच चुका है।
मंदिर में छह तहखाने हैं। इन्‍हें ए से एफ का नाम दिया गया है। शनिवार को चैंबर ए में मिले सामान का हिसाब-किताब निकालने का काम पूरा हो गया। बी और ई चैंबर को अभी खोला जाना बाकी है। चैंबर बी 1872 के बाद से नहीं खोला गया है। काम सोमवार को भी जारी रहेगा।
इन तहखानों से मिली संपत्ति के दस्तावेज सर्वोच्च न्यायालय में जमा किए जाएंगे। इसके बाद ही पद्मनाभ मंदिर के अकूत खजाने की सही कीमत का खुलासा किया जाएगा।
यह मंदिर भारत के सबसे धनवान मंदिर के रूप में सामने आ रहा है। इसलिए अब राज्‍य सरकार ने यहां सुरक्षा बढ़ाने का फैसला किया है। मंदिर के आस-पास सशस्त्र पुलिस बलों की दो प्लाटून तैनात की गई हैं और मंदिर की फोटोग्राफी पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।
कहा जाता है कि ट्रावनकोर राजाओं ने ब्रिटिश शासकों से बचाने के लिए विशाल खजाना इस मंदिर के तहखाने में छुपा कर रखा था। यह धन अकाल जैसी आपदा के समय खर्च करने के लिए था।
गौरतलब है कि तिरुअनंतपुरम के भगवान पद्मनाभ को त्रावणकोर रॉयल हाउस ट्रस्ट चलाता है। भगवान पद्मनाभ को यहां पारिवारिक देवता का दर्जा हासिल है। इतिहासकारों के मुताबिक ये मंदिर त्रावणकोर वंश के शासक राजा मार्तण्ड वर्मा ने 18वीं शताब्दी में बनवाया था। इससे पहले इस मंदिर के दो चैंबर सन 1880 में खोले गए थे। अब 130 साल बाद फिर मंदिर के गुप्त तहखानों और कमरों को खोला गया है। इतिहासकारों के मुताबिक इस बार जो खजाना मिला है उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि यह मंदिर भारत ही नहीं दुनिया भर में शायद सबसे ज्यादा अमीर मंदिर है।
क्‍या-क्‍या मिला
सोने की छड़ों और रत्न आभूषण से भरे ७० बोरे और ७ बक्से • १००० किलो सोने का ढेर (चावल के आकार के दाने) • १७ किलो सोने के सिक्के ईस्ट इंडिया कंपनी के समय के • १४ किलो सोने के सिक्के त्रावणकोर टकसाल के • १०० सिक्के राशि वाले, नेपोलियन बोनापार्ट के समय के • १००० से ज्यादा सोने के हार १८ फीट लंबे • ३ सोने और हीरे जडि़त मुकुट • १० किलो सोने का एक नेकलेस • ४ सोने के हार दो-दो किलो वजन के • ५००० करोड़ रुपए के सोने-चांदी के बर्तन, मुकुट, सोने के छत्र, मशालें, छड़ें, राजदंडिका और राजदंड (छोटी लाठियां)। • १००० सोने की जंजीरें • ५-५ करोड़ रुपए की हीरे और सोने की सैकड़ों मुहरें • १ क्विंटल से ज्यादा के हार • १ लाख सोने-चांदी के सिक्के, मणिबंद और लॉकेट • २-२ किलो वजन वाली सोने और चंादी की अनगिनत छड़ें
रक्षा ताकत बढ़ाने के लिहाज से इतने पैसे में क्‍या कर सकते हैं
50 हजार करोड़ रु. में हम खरीद सकते हैं 595 एफ 16 युद्धक विमान (एक की कीमत करीब 84 करोड़ रु.)
> 2500 ड्रोन (एक की कीमत करीब 20 करोड़ रु.)
> भारत का रक्षा बजट - 1.64 लाख करोड़ रुपए
कई देशों के जीडीपी से तुलना करें तो...
देश जीडीपी
हंगरी 57.54 खरब रुपए
पेरू 56.54 खरब रुपए
न्यूजीलैंड 55.84 खरब रुपए
यूके्रन 50.66 खरब रुपए
कजाकिस्तान करीब 48.68 खरब रुपए
वियतनाम 40.98 खरब रुपए
मोरक्को 40.54 खरब रुपए
बांग्लादेश 39.87 खरब रुपए

कारीगरी का नायाब नमूना है श्री पद्मनाभास्‍वामी मंदिर, देखिए तस्‍वीरें

शुक्रवार, 17 सितंबर 2010


 

Follow Us:

Add Me: